What is private Cryptocurrency in hindi ? List of 10 private Cryptocurrency in India ?

What is private Cryptocurrency in hindi: पिछले कुछ समय से दुनिया में हर तरफ क्रिप्टोकरंसी का बोलबाला है। युथ जनरेशन में तो क्रिप्टोकरंसी में इंवेस्टमेंट करना फैशन बनता जा रहा है।

लेकिन क्रिप्टोकरंसी में पैसा invest करना काफी रिस्क भरा काम है। क्योंकि इसमें प्राइज बहुत ज्यादा अप डाउन होते रहते हैं, और इसमे फ्रोड़ भी बहुत ज्यादा होते रहते हैं। 

इसमेंं निवेशकों के साथ इस तरह के धोखे होने का मुख्य कारण सभी क्रिप्टोकरंसी का डिसेंट्रलाइड़ (Private Cryptocurrency) होना है। 

इसलिए सुत्रों का कहना है कि  हमारी इंडियन सरकार कुछ Cryptocurrency को छोड़कर बाकी सभी Private Cryptocurrency को बैंन करने के बारे में विचार कर सकती है।

  • Is Cryptocurrency ban in India (क्या क्रिप्टोकरंसी बैन इन इंडिया)

आने वाले शीतकालीन सत्र में हमारी भारतीय सरकार क्रिप्टोकरंसी पर कानुन बनाने के लिए संसद में प्रस्ताव पेश करेगी,जिसमें private Cryptocurrency  पर टैक्स लगानें पर विचार किया जाएगा ।

हमारी इंडियन सरकार यह बात पहले ही बता चुकी है कि क्रिप्टोकरंसी को पुरी तरह से बैंन करना बहुत मुश्किल काम है। लेकिन क्रिप्टोकरंसी में हो रहे घोटालों से निवेशकों को बचाने के लिए हमारी सरकार ने इंडिया में कुछ क्रिप्टोकरंसी को बैन करने का फैसला लिया है।

 इंडियन सरकार ने साल 2018 मे क्रिप्टोकरंसी को पहले ही बैंन कर दिया था। लेकिन साल 2020 में हाई कोर्ट के फैसले के बाद से आप इंडिया में क्रिप्टोकरंसी मे ट्रेडिंग कर सकते थे,

लेकिन इंडियन सरकार इस साल के शीतकालीन सत्र में क्रिप्टोकरंसी को India में बैन करने के लिए बिल पेश किया जाएगा। यह बिल इंडिया में क्रिप्टोकरंसी को बैन करने के लिए नहीं, बल्कि क्रिप्टोकरंसी के लिए कानून बनाने का लिए पेश किया जाएगा।

What is Cryptocurrency bill in India?

इस साल संसद के शीतकालीन सत्र में ,26 बिल पेश किये जाएंगे, इनमें से बिल no.10 में क्रिप्टोकरंसी के बारे में कानून बनाने और उसमें हो रहें घोटालों से निवेशकों को सुरक्षित करना है।

क्योंकि हमारी इंडियन सरकार को यह बात बहुत अच्छे से मालुम है कि क्रिप्टोकरंसी में इंवेस्टमेंट करने में हमारा देश का युथ काफी ज्यादा इंटरेस्ट दिखा रहा है। 

इसलिए हम कह सकते हैं कि हमारी इंडियन सरकार यह बिल क्रिप्टोकरंसी पर बैन लगाने के लिए नहीं बल्कि इसमें हो रहे घोटालों से निवेशकों को बचाने के लिए बना रही है।

What is private Cryptocurrency in hindi

सभी क्रिप्टोकरंसी डिटेंटरलाइज बेस पर काम करती हैं । किसी भी क्रिप्टोकरंसी का स्वामित्व हमारी इंडियन सरकार या फिर किसी दुसरे देश की सरकार के पास नहीं है। इसलिए सभी क्रिप्टोकरंसी private Cryptocurrency हैं।

Is bitcoin private Cryptocurrency

जी हां बिटकॉइन भी एक Pravite Cryptocurrency है। जिसे साल 2009 में संतोषी नागामोटो ने बनाया था। बिटकॉइन पहली क्रिप्टोकरंसी है, बिटकॉइन की कामयाबी के बाद लगातार बहुत सारी क्रिप्टोकरंसी मार्केट में लॉन्च हो रही हैं।

 

इनमें से कुछ क्रिप्टोकरंसी ने अपने निवेशकों के साथ फ्रोड़ किया है। इसलिए हमारी इंडियन सरकार क्रिप्टोकरंसी के लिए ऐसा बिल ससंद में पेश करने वाली है। जिससे निवेशकों को इस डिजिटल करंसी में आऐ दिन होने वाले फ्रोड ़से सुरक्षा मिल सके।